शिला की जमकर चुदाई




loading...

मेरा नाम गोपाल हे. फ्रॉम ठाणे मुंबई. हाईट ५’१०, स्लिम फिट बॉडी. ६” लंड मेरी उम्र २३ इयर्स हे. आई ऍमस्टॉक ब्रोकर एजेंट, सो आगे में आपको सब हिंदी में स्टेरी बता दूँ ताकि सब पढ़ सके.

तो दोस्तों ये स्टोरी एक साल पुरानी होगी जब १२ std की एग्जाम को एक मंथ बाकी था. हमारे घर के बगल एक फेमिली रहती थी लेकिन उन्होंने कुछ मंथ पहले अपना रूम सिफ्ट किया था. उनकी एक बेटी सिला और लड़का अमोल.

अमोल 9std में था और सिला 12th std में . 12std के एग्जाम के २ मोंथ्स पहले अंकल ने मुझे शिला को अकाउंट पढ़ाने को अपोइन्ट किया. तभी मेने उस काम के लिए हां कर दी, मुझे कोई प्रॉब्लम नहीं थी. और शिला को भी क्यों की हम एक दुसरे को काफी अच्छी तरह से पहेचानते थे.

में शिला को डेली अकाउंट पढ़ाने जाता था. उसकी एक फ्रेंड थी अश्विनी वोह भी पढने आती थी. दोनों काफी अच्छी लड़कियां थी लेकिन मेरे मन में दोनों के लिए कोई इनटेंसन नहीं थी. वो दोनों खूब जी लगाकर पढ़ा रहे थे. में उनको पढाता था वो लोग जट से याद कर लेते थे.

उन दोनों ने काफी हद तक अपनी स्टडीज कवर कर लिया था. अब एग्जाम को सिर्फ एक मंथ ही बाकी था और बाद में अश्विनी का आना बंद हो गया, उसके घर वालो ने उसके ऊपर रीस्ट्रीकशन डाल दी थी. लेकिन शिला को मेने पढ़ना जारी रख्खा.

एग्जाम के १ मंथ पहले शिला के नानी का स्वर्ग वास हो गया, और वो सब लोग अपने गाँव चले गए मुझे यह बात शिला ने कॉल करके बता दी. अब हमारी पढाई बंद हो चुकी थी. कुछ २ दिन बाद मुझे शिला का कॉल आया, और कहा की में घर आ चुकी हूँ तुम मुझे पढ़ाने शाम को मेरे घर आओ. मेने हाँ कहा और फोन रख दिया.

में उस दिन उसके घर गया डोर बेल बजाई, सामने शिला थी और घर में कोई नहीं था. मेने उससे पुचा की अंकल और आंटी कहा हे, तब उसने बताया की मम्मी डेडी गाऊ में ही हे. १० से १२ दिनों के लिए और कहा की डेडी ने कॉल करने को कहा हे.

मेने अपने मोबाइल से अंकल को कॉल किया और वोह बोले की हम लोग १२ दिन नहीं आ सकते तुम शिला को पढ़ाकर अपने घर ले जाना. और खाना खिला देना वेसे उनके और हमारे फेमिली के बिच बहोत अंडरस्टैंडिंग थी तो मेने हां कर के कॉल डिसकनेक्ट कर दिया.

में उनके हॉल में बेठा था तभी मुझे शिला ने अपने बेडरूम में बुलाया. हम लोग डेली बेडरूम में ही स्टडी करते थे, २ दिन हो गए ३रे दिन जब शिला के घर गया डोर बेल बजाई और शिला ने डोर ओपन किया. ओह माय गोद क्या लग रही थी वोह.

में अन्दर गया और उससे कहा की शिला तुम आज बहोत कमाल की लग रही हो. उसने पर्पल कलर का दीप नैक टॉप और ब्लैक कलर की टाइट शोर्ट पहनी थी. दोस्तों मेने अभी तक शिला को पूरी तरह आपके सामने इंट्रोडूस नहीं किया तो शिला दिखने में एक दम हरी भरी थी, रंग गोरा साइज़ ३८-३०-३८ की होगी दोस्तों मेरे मन आज भी शिला के लिए कुछ नहीं था लेकिन आज जो उसने अपना रूम दिखाया में तो उसका दीवाना हो गया.

उस दिन हम पढ़ रहे थे, लेकिन मेरा ध्यान अक्सर उसके बूब्स पर जा रहा था कितना भी कोसिस करके में अपने आप को कंट्रोल नहीं कर पा रहा था, मेने तुरंत पढाई बंद कर दी और शिला से बात चित करने लगा, तभी मेने उससे कहा की तुम्हारा कोई बॉय फ्रेंड हे. पहले तो उसने ना कहा पर मेने उससे सच निकाल लिया.

एक लड़का हे तभी मेने उसे सेक्स की तरफ खिंच लिया, मगर अभी तक उनमे कुछ नहीं हुआ था सिर्फ किसिंग वो भी सिर्फ सिनेमा होल में ही मुझे हसी आ गयी मगर ये सब में मेरा पूरा ध्यान उसके बूब्स पर ही था पढाई करते वक़्त मेने उसकी क्लेवेग भी देख ली थी. क्लेवेग थी उसकी बाप रे बूब्स तो थे कमाल के थे में सोंच रहा था इसका बॉय फ्रेंड तो बहोत ही लकी होगा. इतने में मेरा लंड टाईट हो गया था उसने ये भी नोटिस कर लिया था.

उस दिन कुछ ज्यादा हुआ नहीं नेक्स्ट डे में उसके घर गया, शिला ने कल के जेसे आज भी कपडे पहने हुए थे. में थोडा समज गया था की मुझे ग्रीन सिग्नल मिल रहा हे लेकिन डर भी लग रहा था, कहीं कुछ गलत ना हो जाए.

कुछ मिनट बाद में कंटीन्यूज शिला के बूब्स को देख रहा था और मुझे अपना ध्यान भी नहीं था तभी अचानक शिला हंस पड़ी और में एसे बिहेव करने लगा की जेसे मेने कुछ किया ही नहीं.

शिला उठकर किचन में गयी और हमारे लिए ज्यूस ले कर आई, लेकिन आते समय उसका पैर उसके पैर में अटक गया. और लाया हुआ पूरा ज्यूस मेरे ऊपर गिर गया. मेने जा कर उसे उठा लिया और उसे सोफे पर बिठा दिया, वोह मुझे बार बार सॉरी कहने लगी और उसने अपनी ही हांकी से मेरा मुह साफ़ करना चालू किया ऊऊऊफ़्फ़्फ़्फ़ क्या स्मेल था यारो उसके बॉडी का.

आज तक शिला मेरे इतने करीब कभी नहीं आई थी. हम दोनों सोफे पर बेठे थे और वोह मेरा मुह साफ़ कर रही थी उसकी गरम गरम साँसे मेरे चेहरे पर पड़ रही थी, मुझे रहा नहीं गया मेने जट मेरा हाथ उसकी कमर पर रल्ह दिया मेने उसे पाने दोनों हाथो से पकड़ लिया अब उसके बूब्स मेरे चेस्ट को टच कर रहे थे लेकिन शिला मुझसे दूर होना चाहती थी. मेने जाट से उसके गालो पर किस कर ली.

उसने कहा ये क्या कर रहे हो तुम, में कुछ नहीं बोला और उसे जाने दिया में क्लीन होक वापस उसे पढ़ाने लगा और बिच में उससे कहा की जो तुम्हारे बॉय फ्रेंड ने अभी तक नहीं दिया वो में दे सकता हूँ उसने मुझे इग्नोर किया और मेने जट से उसका हाथ पकड़ लिया. वो मना कर रही थी प्लीज् प्लीज् बोल रही थी. मेने कहा ठीक हे.

उस दिन रात को शिला का मेसेज आया की मेसेज-गोपाल अब तक मुझे किसीने किस नहीं किया था, तुम पहले लड़के हो जिसने मुझे किस किया हे. मुझे नींद नहीं आ रही हे में क्या करू.

तब मेने उसे रीप्लाय किया.

मेसेज-तुम जुट कह रही हो, तुम ने ही तो कहा था की मेरे बॉय फ्रेंड ने सिनेमा होल में किस किया हे.

उसका फिर रिप्लाय आया.

मेसेज- वोह मेने तुम से जुट कहा था की तुम मुज पर हस ना पड़ो इसलिए.

मेने उससे फिर रिप्लाय किया.

मेसेज-हा ठीक, में अभी सो रहा हूँ कल हम बाते करते हे और में तेरे घर जल्दी आ जाऊँगा. बाय on tc sd sd.

नेक्स्ट डे में उसके घर शाम के ४ बजे ही गया. वोह थोड़ी सो रही थी नींद में थी जब उसने अपना डो ओपन किया उसने मुझे बेडरूम में बुलाया, में अन्दर चला गया, उसने मुझे कहा की तुमने मेसेज में दो बार sd sd क्यों लिखा था. मेने डफ़र स्वीट ड्रीम और सेक्सी ड्रीम.

वोह हंस पड़ी, मेने पुचा क्या हुआ, उसने सर हिला के कुछ नहीं कहा. वो बेड पर बेठी थी मेने उसके हाथ पर अपना हाथ रख दिया और उसके और नजदीक हो गया अब शायद दोनों तरफ आग लगी हुई थी. मेने उससे गालो पर किस किया लेकिन इस बार शिला ने कुछ नहीं कहा. मेने उसके गालो पर किस करते करते उसके कोमल होटो तक पहोंच गया. क्या सॉफ्ट हॉट हते उसके मेने एक लम्बी किस ली और अब शिला भी गरम हो चुकी थी अब वो भी मुझे रिस्पोंस दे रही थी. हम ने करीब १० मिनट तक किसिंग की. शिला ने सिल्क पिंक कलर की गाउन डाली थी उस पर उसके बूब्स क्या गजब धा रहे थे.

मेने अपना एक हाथ उसके बूब्स पर रख कर उसको बूब्स मसाज देने लगा. में जोर जोर से बूब्स दबा रहा था. उसने कहा ओह मेरे सेर ये मेरे बूब्स हे कोई आता नहीं जरा आराम करो दर्द हो रहा हे, ये सुनकर मेरा लंड ६ इंच रोड फुल इरेक्ट हो गया.

में बेड पर सो गया और मेने अपनी त शर्ट निकाल दी अब वो मेरे चेस्ट पर किस कर रही थी वोह मेरे ऊपर थी मेने अपने दोनों हाथो से उसकी सिल्क गाउन धीरे धीरे ऊपर खिंच रहा था जब उसकी गाउन ऊपर आ रही थी तब उसकी गाउन उसके पैर पर से सरकती सरकती आ रही थी. उसके टच ने उसे और भी मदहोस बना दिया. मेंने उसके बंप के थोड़े ऊपर तक गाउन ओड ली.

और उसके स्पंची बंप पे पेंटी के ऊपर से हाथ घुमाने लगा क्या टच था बहोत मजा आ रहा था. मीन उसके पेंटी के कट से अपने दोनों हाथ अन्दर डाल दिए और पेंटी को निचे खिंच दिया उससे शिला और भी हॉर्नी हो गयी और मुझे काटने लगी.

अब उसके मुह से मौनिंग चालू हुई. आआअ आआआ आआअज्ज्ज्ज ज्जज्जज्जजआआआअआआआआआआआआ आआआआ ह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह आआआअह्ह्ह्हह्ह्ह्हह्ह.

मेने उसे उठा लिया और बेड पर बेठने के लिया कहा. मेने उसकी गाउन निकाल दी. ऊऊफ़्फ़्फ़्फ़ क्या कमाल की लग रही थी यारो. उसकी ब्रा तो बहोत ही सेक्सी थी. वाइट कलर की और पेंटी भी कमाल की थी.

मेने भी अपनी जिन्स निकाल दी और उसके सामने उन्दिएस पर बेठ गया. उसमे मेरा लंड सलाम कर रहा था. बहार आने को मचल रहा था. में अभी बेड पर दीवाल के सहारे बेठ गया और उसे मेरे उअर बीथा लिया. अब मेरे चेस्ट पर शिला की पीठ टी. में उससे उसके कंधे पर किस करने लगा.

मेने उसकी गर्दन पर ३-से ४ लव बाईट दे दिए, अब मेने मेरे दोनों हाथ उसकी ब्रा में डाल दिए, और उसके बूब्स को मसाज देने लगा. उसके बूब्स थोड़े बड़े थे. एक हाथ में पुरे नहीं समा रहे थे. लेकिन एक दम फ्रेस थे. बूब्स दबाते समय उसके मुह से मौन चालू था.

ऊऊऊऊफफफफफ आआआआआआ आआआअआआआअ आआआआअ आआआआआ आआआआआ आआआआ आआआअज्ज्ज ज्ज्ज्जज्ज्ज्ज आआआअज्ज्ज्जह्ह्ह्हह्ह आआआअह्ह्ह्ह आआआआआआआ

मेने उसकी ब्रा की हुक निकाल दी जेसे ही मेने उसकी ब्रा निकाली उसके बूब्स बहार उछल पड़े क्या लग रहे थे. मेने उसे थोडा टेडा करके राईट वाला बूब्स अपने मुह पे ले लिया. और लेफ्ट वाला हाथ से दबा रहा था. उसकी मौन चालु थी. उसकी मौन मुझे उत्तेजित कर रही थी. शिला की साँसे भी तेज होती जा रही थी.

इस दौरान मेने मेरा हाथ उसकी पेंटी में डाल दिया. उफ्फ्फ क्या वो गिला था. में समज गया की वो झड चुकी थी. अब मुझे भी रहा नहीं जा रहा था. मेने उसकी चूत में अपनी ऊँगली डाल कर ऊँगली कर ने लगा और बाद में उसके पानी का स्वाद चाटा मस्त स्वाद था उसका.

में अब आउट ऑफ़ कंट्रोल हो रहा था. मेने जट से उसकी पेंटी भी निकाल दी. ओवेसोमे चूत थी वोह. एक दम पिंकिस थी मेने अपनी ऊँगली से उसकी चूत के दाने से खेलने लगा एक दम मस्त चूत थी वोह मेने उसकी चूत में ऊँगली डाल कर खुजलाना चालू किया और उससे वोह पूरी तरह पागल हो गयी कह रही गोपाल प्लीज् जकड़ी करना अब मुझे रहा नहीं जा रहा. इस दौरान उसने मेरी पीठ पर अपने नाख़ून गाढ़ दिए थे में जाट से उसकी चूत चाटने लगा जेसे मेने उसकी चूत को अपने मुह से टच किया वोह उछल पड़ी और मर गयी मर गयी कहने लगी.

मेने अपनी जबान डीप डालने की कोसिस की लेकिन मुझे जल्दी नहीं थी इस्सी समय शीला ने पानी छोड़ दिया मेने पूरा पानी पि लिया मस्त स्वाद था उसका.

अब मेने उसको अपना लंड चूसने को कहा उसने मेरी उन्दिएस निचे की और मेरे फुल एरेक्टेद लंड को अपने कोमल हाथो में पकड़ लिया. इस वक़्त मुझे जो कारंट लगा था ये सिर्फ एक चुदक्कड ही समज पायेगा. उसने मेरा लंड चुसना शुरू किया.

शिला ठीक तरह से नहीं कर पा रही थी. मेने उसे बताया की वोह सिर्फ अपने होटो के सहारे सूचक करे ना की दाँतों से. वोह समज गयी और बराबर सूचक करने लगी. १० मिनट बाद में झड ने वाला था. लेकिन मेने जान बजकर मेरा पानी उसके मुह में छोड़ दिया, उसमे से थोडा पानी उसने पि लिया.

शायद उसे ये सब पसंद नहीं था लेकिन मेने उसे संजय की शुरू में एसे ही होता हे तुम एक दो बार और करोगी तो तुम्हे बहोत पसंद आ जाएगा. फिर हम ६९ पोज़ में आ गए में निचे था और वोह मेरे ऊपर में उसकी चूत फुल फ़ोर्स से चूस रहा था और वोह भी अब अच्छी तरह से सूचक कर रही थी.

उसकी चूत चूसते चूसते उसके बूब्स निचे लटक रहे थे. मेने उनको अपने हाथो में लेकर सॉफ्ट मसाज देने लगा.

धीरे धीरे उसके निपल्स को स्मूच्थ करने लगा अब में जोर जोर से उसके बूब्स दबाने लगा था. कुछ देर बाद में झड गया और मेरा पूरा पानी उसने चूस चूस कर पि लिया. इस दौरान शिला भी दो बार झड चुकी थी. उसका पानी भी मेने पि लिया था. नया नया पानी था वो पहली बार इस दुनिया में आया था जेसे ही आया वो मेने पि लिया.

अब हम बेड पर एसे ही पड़े थे. ६९ पोज़ में. दोनों थक गए थे. मेने शिला को फुल सूचक करने को कहा. ५ मिनट बाद उसने सूचक करना चालू किया और मेरा लंड फिर से सलाम करने लगा. शिला भी लंड चुस्ती जा रही थी. मेने सोचा यही राईट टाइम हे शिला को चोदने का मेने शिला को उठाया और बेड पर मेरे निचे सुला दिया में उसके ऊपर चढ़ गया.

शिला अपने हाथ फेलाकर लेटी हुई थी. में उसके दोनों हाथो को कास कर पकड़ कर किस करना चालू किया उसके गालो पर होटो पर गर्दन पर, इन सब पर मेने कई सारे लव बाईट भी दे दिए. अब में उसके बूब्स चूस रहा था. मेने उसके दोनों बूब्स पर निपल के बाजू में एक लव बाईट का सर्कल बना दिया था.

अब शिला को सहा नहीं जा रहा था. वो पागल हो रही थी उसने मुझे टाइट हग किया और कहने लगी फ़क में माय डार्लिंग अब में उसे चोदने के लिए तैयार था मेने अपना लंड उसकी चूत पर रख दिया और धक्का दिया लेकिन वो वह से फिसल गया.

शिला ने फिर मेरा लंड पकड़ लिया उसी टाइम मुझे एक बार फिर कोर्रांत लगा गया. दोस्तों उसके हाथो का तूच ही कुछ अलग ही था. उसने मेरा लंड पकड़ कर चूत के ऊपर रख दिया और आँख मार कर सर हिला दिया.

मेने अब धीरे धीरे धक्का देना सुरु किया अब मेरे लंड का तोप ही अन्दर जा चूका था.शिला को दर्द हो रहा था लेकिन अब तक मेरा पूरा लंड अन्दर नहीं गया था. मेने कंडोम नहीं लिया था इस लिए मेने अपना लंड शिला के मुह में डाल कर चूसने को कहा. उसने चूसते समय मेरा लंड गिला कर दिया..

अब मेने उसकी चूत पर लंड रख दिया और फिर एक बार धक्का दे दिया अब मेरा आधा लंड अन्दर जजा चूका था. लेकिन यहाँ शिला का बहोत बुरा हाल था. क्यू की उसकी बहोत ही टाइट थी. उसकी चूत अभी तक सिल पाक थी. मेने फिर एक बार धक्का दे दिया और अबी इस बार मेरा पूरा का पूरा लंड उसकी चूत में समां गया और शिला जोर से चिल्लाई मेने जाट से उसके मुह पर हाथ रख दिया.

वो रो पड़ी थी में थोड़ी देर रुक गया, अब उसका दर्द कम हुआ था और में वापस चल पड़ा मेने धीरे धीरे मूवमेंट चालू की अब में आगे पीछे होने लगा था. मेने धीरे २ अपना स्पीड बाधा ली. इस बार शिला मेरे लंड को अन्दर लेके मज़ा करने लगी थी. बेड पर में करीब उससे १० मिनट चोदा इस दौरान उसकी मौन मुझे पागल कर रही थी.

आआआआआ आआआआ आआआअ आआअज्ज्ज्ज अआज्ज्ज्ज आआज्ज्ज्ज आआज्ज्ज्ज अआज्ज्ज्ज आआआआअज्ज ऊऊऊह्ह्ह्ह ऊऊओह्ह्ह्ह ऊऊऊउफ़्फ़्फ़्फ़ ऊऊफ़्फ़्फ़्फ़ आआआआअ आआआअ आआआज्ज्ज आआआआआ jjjjjjjjjjjj.

मेने उसे अब डौगी स्टाइल में आने को कहा मेने उसके बूब्स पकड़ लिए थे और डोगी स्टाइल में चोदने लगा करीब १५ मिनट चोदने के बाद में अन्दर ही झड गया और हम दोनों टाइट हग करके नुड़े ही बेड पर लेट गए करीब २० मिनट तक.

मेने शिला को बता दिया की मेने अपना पानी अन्दर ही छोड़ दिया हे तोह डर गयी तो मेने उसे कहा की कल सुबह पिल ले लेना तो वोह मान गयी. अब शाम के ७ बज रहे थे और खाना खाने के लिए हम लोग ९ बजे मेरे घर जाते थे अब और २ हौर्स बाकी थे हम अब तक बेड पर ही हग करके लेटे हुए थे. मेने उससे कहा की क्यू न और एक सेशन हो जाए, और शिला जाट से रेडी हो गयी. इस बार मेने शिला की गांड मारने की सोंच ली थी.

मेने उससे फिर एक बार डोगी स्टाइल में आने को कहा और मेने मेरा लंड उसकी गांड के होल पर रख दिया. शिला लाख मना कर रही थी लेकिन मेने उससे बातो बातो में किस वगेरा करके पटा लिया. मेने अब जोर से एक धक्का दे दिया लेकिन कुछ नहीं हुआ.

उसका ये होल बहोत टाइट था. मेने उसके इस होल पर उसकी फेयरनेस क्रीम लगा दी मेरे लंड पर भी लगा दी, मेने अपना लंड उसके अस होल पर रख दिया और धक्का दे दिया इस बार मीरा लंड अन्दर गया और यहाँ शिला मरने लगी थी. वो मुझे धक्का देने लगी थी लेकिन मेने एक नहीं मानी. और में आगे पीछे करने लगा. उसकी गामड इतनी दर्द कर रही थी यह सिर्फ उसके तडपनेसे मुझे पता चल रहा था. मेने १५ मिनट चोदने के बाद में झड ने वाला था तब मेने उससे पुच लिया क्या करू.

उसने कहा की मेरे मुह पर पानी चोद दिया उसने सब पानी अपनी जबान से चाट लिया. हम दोनों वापस बेड पर बेठ गए और शावर लेके फ्रेस हो कर ह्काना खाने मेरे घर चले गए. खाना खाके मेने शिला को रोज की तरह अपने घर छोड़ दिया और मेने वह से मेरे घर कॉल किया की में दस्त के पास जा रहा हु सोने लेकिन मेने घरवालो से झूट कह कर उस रात शिला की जैम कर चुदाई की पूरी रात भर भर हमने ६ सेशन में चुदाई की.



loading...

और कहानिया

loading...


Online porn video at mobile phone


Kamukta in vidva chchewww antarwasnasexi kahaniporan xxx besse chut vbowww beta ka bada land ko dekhakr chok gai momदेसी भोसड़ा को औरत बुरी लगने दो आदमी सेक्सी डाउनलोडmuje bandh ke gangvang sex stoey hindijiju Hum Bhi khana sex.combiwi ko cuhdhaya sax hindi sotry youtubehind chut kahani 2018xxx khaniya adio didi aur bhaichut land ki kahaniahindisexy storyबुर मे बड़ा बड़ा बाल Xxxmai mapana maa ko bur roj chudai karata hu xxx kahani hindi meMastaram ki kahaniभाभी के सेकसी सेरी कमek sath do paraye mardo se gand chudai hindi kahaniyaगाड मारना शुरू कर दिया मस्त चुदाई की कहानियांhindisexvsexsirf boy ro boy secxx bidioporn sorry makan.malkin ki Manish sexहिंदी सेक्स स्टोरी माँ बहन को छोड़ाdesi kamukataहिन्दी मराठी सेस्क स्टो री.combate.sex.datkamnockrani ka shath baltker.comvasnahindisexkahaniyamaami ki mast gaand maarane ka mouka sex hindi kathaदेसि बस मेसेकसि विडियो.xxx jwan ladke ke khaneमेरे परिवार मे सबने चोदा मुझे रोज रोजnaukar ne maa ko choda 4 saal tkhema aanti saxi stori xxxबस में चोद दियाRealsex stores bap beti vasena .comarbia ghar ki chudai kahaniसविता डाँट काँम सैसी कहानीkhanicut kihindiजीभ भाबी सेकसीदेसी रडी री गाड मरवाईxxx bhap beti bhodabahi sa gand marwi sexy kahaniबस में चोद दियाsex stories with pics in hindiलण्डबुरि फाड चोदाइHINDI SEX KHANEYA.COM सहेली के साथ xxxxxstory hindi xxx name priyaka ki shadi ki suhagratauntiychudaaishaadi ma school friend ki chudai ki kahaniमाँ को बर्थडे पर छोड़ालडकिओ का ग्रुपrandiyon ke xxx cuhudai kahaniyan ful hinde mchudai hindi kahaniyasexting line hindi bas karo dard ho raha hai Aa uhh aaaसेक्स भरी कहानीयासभी चाची मौसी की बड़ी laund se ki सेक्स कठिन stroies choudipariwar me chudai ke bhukhe or nange logचूदाई वीडीऑghare me bulaya bhabhi ne muje choda sexy youtubmaa ka gangbang sex kahani hindi likhitre gandu boor mein laura todo xxx porn vifeopariwar me gangbang hindi kahanigandi gandi hindi audio storries bhai bahan kichodai dotcome persex dever ne bhabhi ko jabadsti boor chudai ki kahani hindi meकच्ची बर चूतभाजी चूत का रेफgarami me bhatija ne kamsin fuwa choad kar maa hindi kahani likhsex devar ne bhabhi ko jabardasti sari khol kar boor chodamaa ko jabardasti pakde k sexi khaniya hindi mhindi sex stories/chudayiki sex kahaniya. kamukta com. antarvasna com/tag/page no 55--89--211--320bhabhi ki rasbhari chut khanimeri jindagi ki fist chudai Hindi sax storymaa beta kahani photoNSA khila kr choda sex storiesराजस्थान में रस भरी भौजाई की बड़े लड से चुदाई कहानियाdidi ne didi ko apni chut ka ras pilayaहिन् दी में जबरदस्ती की gang rap sex storyhindi sex storis antarvasnakamyuta. com sex kahaniहिदी ठोका बीडिओjim karne vale devar ne bhabhi ko choda hindi sex kahaniyakamuktaAyrt ki xxx HD sadyi kamkuta dot com non veg chudai storyAnterwasna nigro ki hindi kahaniyamama bhanji ki new 2018 year ki kahani xnxxsexxxx rape story Hindi Antervasna.परिवार कि सामुहिक चुदााईhinde sexi maa sarab kahanidard ho rha h sex story hindihindi xxx kahaniऔरत और जानवर के साथ सेक्सी कहानियाँhindesixe.com